Home हमर खबर 105 दिन करिस मेहनत, तब जाके 19 बछर बाद जनकपुर ल नसीब...

105 दिन करिस मेहनत, तब जाके 19 बछर बाद जनकपुर ल नसीब होइस बिजली

106
0
bijli sarguja

रायपुर।  सरगुजा के जनकपुर इलाका के 174 गांव म असल उजियारा 19 बछर बाद अब जाके पहुंचिस हे। बिजली के भरपूर उत्पादन करईया छत्तीसगढ़ के ये गांव के हजारों लोग मन ह अतेक बछर ले ये समस्या ले जूझत रिहिस हे, काबर कि उहां तक ओखर अपन प्रदेश की बिजली ह नई पहुंच पाए रहिस। येखर पहिली ये गांव वाले मन ल दूसर राज्य मध्यप्रदेश ले जादा कीमत म बिजली के मिलत रिहिस हे। अब जाके ये समस्या ह दूर होईस हे।

केवल साढे़ 3 महीना म रेकार्ड समय म 60 किलोमीटर नवा बिजली लाइन बिछा के छत्तीसगढ़ ले ही बिजली पहुंचाय के बेवस्था करे गे हे, बावजूद ये पूरा लाइन ह  जंगल क्षेत्र ले होके गुजरे हे। छत्तीसगढ़ के केल्हारी 33/11 केवी सब स्टेशन ले जनकपुर क्षेत्र तक ये लाइन ल बिछाए गे हे, ऐमा 13 करोड़ 88 लाख रूपिया खर्चा होय हे। पहिली मध्यप्रदेश ले 33 केवी लाइन म लगभग 23 केवी वोल्टेज मिलत रिहिस हे, अब नवा लाइन चालू होय से वोल्टेज ह बढ़के 27 केवी होगे हे।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ल जब जनकपुर इलाका के समस्या ल बताए गिस, तब वो ह एखर तुरंत समाधान करे के निर्देश दिन। राज्य बने के बाद हमर छत्तीसगढ़ राज्य ह बिजली पैदा करे के मामला म सरप्लस राज्य के रूप में जाने जाथे, फेर  अधोसंरचना के मामला म बहुत कन सीमावर्ती इलाका ह उपेक्षित रिहिस। जनकपुर इलाका ह घलो इही में से एक रिहिस। 19 बछर म ये इलाका ल प्रदेश के नजदीक बिजली उपकेंद्र ले जोडे नई रिहिस।

मध्यप्रदेश के जेन 33 केवी लाइन ले बिजली देवत रहिस ओखर लंबाई ह 100 किलोमीटर हे, अब्बड दूर होय के कारण न ओमन ल लगातार बिजली मिल पावत रिहिस अऊ न सही वोल्टेज।  4178 उपभोक्ता वाले जनकपुर के लोगन मन ह  लाइन म खराबी आवय त ओमन ल सुधार कराय बर मध्यप्रदेश के अधिकारी अउ करमचारी के भरोसा म रहे ल पड़े। अब नवा लाइन लग जाय से ओखर मन के बिजली के समस्या ह दूर होगे।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.