Home विशेष अईसने घलो होथे: अपने जात म बिहाव तभो ले कर दिस समाज...

अईसने घलो होथे: अपने जात म बिहाव तभो ले कर दिस समाज ले बाहिर, का हे जम्मो मामला पढ़व ए खबर..

864
0
अपन जात के लड़की ले करिस प्रेम बिहाव, लड़का के पूरा परिवार के बहिस्कार, पहली बार समाज प्रमुख मन के खिलाफ एफआईआर

महासमुंद। लड़की-लड़का दूनों झन बालिग हें, दूनों झन एक दूसर ला पसंद घलो करत रिहिन, दूनों के गोतियारी घलो अलग-अलग हे, दूनों झन अपन-अपन घर-परिवार के सहमति अउ उंकर मौजूदगी म आर्य समाज रायपुर म आदर्श बिहाव घलो कर डरिन। फेर ए बिहाव ह अईसे लागथे कि समाज के मुखिया मन आंखी ल ततेर दिस। तभे तो सामाजिक बईठका हो गे अऊ लड़का के परिवार मन ल जात ले बाहिर कर दिन।

आरोप हे कि समाज के मुखिया मन लड़का के परिवार ला 21 हजार रुपया अउ जाति समाज ला भोज कराए के डांड़ पारिन। दंड अदा नई करे सकिस त लड़का के पूरा परिवार ला समाज ले बाहिर करके फरमान सुना दिन। मामला म एफआईआर होए के बाद अब समाज के मुखिया मन के सुर बदल गे हें अउ ए प्रकार के कोनों फैसला ले इनकार करत हावे।

मामला हरे महासमुन्द जिला के तुमगांव थाना क्षेत्र के जिहां तुमगांव म रहवईया नागेश्वर निर्मलकर हा अपनेच समाज के वैशाली निर्मलकर संग आर्य समाज म दूनों परिवारों के रजामंदी ले आदर्श बिहाव करिस। समाज के मुखिया मन ला बिहाव के 7 महीना बाद ए बात ह नागवार गुजर गे। लड़का अउ ओकर पिता रमेश निर्मलकर ला सामाजिक बैठक म बुला के 21 हजार रुपया अर्थदंड के सजा सुना दे गिस अऊ जम्मो समाज ला झारा-झारा नेवता दे के फरमान सुना दिस।

रमेश निर्मलकर जउन हा रोजी-मजदूरी करथें, हाथ जोड़के विनती करिन कि अर्थदंड नई दे सकंव भई, समाज ल भात भले खवा देहूं। अर्थदंड नई पटा सकिन त तुमगांव के धोबी समाज के मुखिया मन रमेश निर्मलकर के पूरा परिवार ला समाज ले बाहिर कर दीन।

समाज के मुखिया मन के ए रवैय्ये ले दुखी अउ परेसान होके रमेश निर्मलकर हा तुमगांव थाना म मामला के रिपोर्ट दर्ज करा दीन। पुलिस हा शिकायत के जांच करके धोबी समाज के अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, सचिव और अन्य 5 लोगन के खिलाफ भादवि के धारा 385, 34 अउ नागरिक अधिकार संरक्षण अधिनियम 1955 के धारा 7(2) के तहत मामला दर्ज कर ले हे।

बता देन के देश म ए ह अपन तरह के पहिली मामला आए जेमा एक जात म बिहाव करे के सजा पौनी-पसारी बंद करे के बात तक आ जाए। उहें जिला म पुलिस के सख्त कार्रवाई के घलो अईसन म मामला म ए ह पहिली मामला आए। हालांकि जेखर मन के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज हो हे ओमन कोनों प्रकार के कोनों दंड़ लगाए ले इंकार करत हे।

बता देन कि नागेश्वर निर्मलकर अउ वैशाली निर्मलकर के आदर्श बिहाव 3 दिसम्बर 2018 के दोनों के परिजन के रजामंदी ले आर्य समाज रायपुर म होईस। लड़की अउ लड़का दोनों पक्ष हा आर्थिक रुप ले कमजोर हें। ए कारण दोनों परिवार आर्य समाज के मंदिर म आदर्श विवाह करे बर राजी होंगे। वर्तमान म वैशाली हा 6 माह के गर्भ म हे अउ गर्भावस्था म होए के बाद भी समाज के मुखिया मन के द्वारा उंकर पूरा परिवार के बहिस्कार करे ले दुखी हे।

प्रदेश समाज हा नवदंपति के करही सम्मान : प्रदेश धोबी समाज के अध्यक्ष सूरज निर्मलकर, महामंत्री चंद्रहास निर्मलकर, प्रदेश उपाध्यक्ष कार्तिक राम निर्मलकर, महिला प्रदेश अध्यक्ष श्रीमती मैना निर्मलकर समेत अनेक पदाधिकारी मन इतवार के महासमुंद आहीं अउ नव दंपति के सम्मान करके समाज म शामिल करहीं। साथ ही समाज म सुलह कराए के प्रयास करहीं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.