Home हमर खबर “13 साल म 24 करोड़ रुपिया के खर्चा फेर एको झन ल...

“13 साल म 24 करोड़ रुपिया के खर्चा फेर एको झन ल नई मिल पाईस शिछा“

107
0
Monsoon session of Chhattisgarh assembly
होटल प्रबंधन संस्थान के मामला गूंजिस सदन म

रायपुर. विधानसभा के मानसून सत्र के तीसर दिन मंगलवार के उद्योग म होए हादसा के मामला ह गरमाए रिहिस। विपक्ष के सवाल ले मंत्री ह बताईन कि पाछू के छह महीना म 45 मजदूर मन के मउत हो चुके हे। इही बात ल लेके विपक्ष ह कारखाना मन म विस्फोटक रखे जाए के बात कहिन। एखर सरकार ह विरोध करिन त विपक्ष ह हंगामा शुरू कर दिस। उहें पूर्व होटल प्रबंधन संस्थान ल लेके घलो सवाल होईस जेमा जवाब देत गृहमंत्री ह बताईन कि एखर स्थापना ले लेके अब तक उहां 24 करोड़ रुपिया खर्चा करे जा चुके हे। हालांकि एको झन छात्र उहां ले शिछित नई होए हे।

कार्यवाही के बेरा म पूर्व सीएम अजीत जोगी ह पर्यटन विभाग डाहर ले संचालित होटल प्रबंधन संस्थान ल लेके सवाल करिन। ओमन संस्थान की स्थापना, ओखर व्यय अऊ छात्र मन के पास होए के जानकारी मांगिन। एखर बाद गृहमंत्री ह बताईन कि संस्थान के पंजीयन 6 जून 2006 म करे गे रिहिन। एखर भवन निर्माण म 20.71 करोड़ रुपिया ले जादा के राशि व्यय करे गे हे। उहें दिसंबर 2018 के बेरा तक वेतन भत्ता के मद म 3.31 करोड़ रुपिया ले जादा के भुगतान करे गे हे।

गृहमंत्री ह बताईन कि स्थापना ले लेके अभी तक कोनों छात्र इहां ले शिछित होके बाहर नई निकले हे। ए जवाब म अजीत जोगी ह कहिन कि मंत्री के उत्तर ले जेन तस्वीर आगू आ हे ओ ह शर्मसार करने वाला हे। 20 करोड़ ले भवन के निर्माण होईस, 3 करोड़ म टीचर अऊ निदेशक के नियुक्ति होईस। 13 साल म 23 करोड़ खर्चा करे के बाद इहां ले कोनों छात्र शिछित नई होए हे जेन ह बहुत शर्मनाक हे अऊ ए चिंताजनक बात आय। एखर बार गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू ह कहिन कि हाल के बेरा म हाईकोर्ट म प्रकरण हावे अऊ ओखर फईसला के इंतजार करत हन ताकि एखर उपयोग करे जा सके।

….. एक शब्द करे औषधि एक शब्द करे घाव

सदन म प्रदेश के उद्योग मन म होए दुर्घटना अऊ मउत के संगे-संग सड़क-पुल पुलिया के मामला घलो गरमाईस। नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ह औद्योगिक शहर मन म श्रमिक मन के मउत ले लेके सवाल करिन। जेखर जवाब म श्रम मंत्री शिव डहरिया ह बताईन कि दिसंबर 2018 ले 20 जून 2019 तक 45 मजदूर मन के मउत अलग-अलग हादसा म होए हे। एखर बाद कौशिक ह आरोप लगाईन कि जांच मऊत के बाद करे जात हे, फेर ओखर पहिली उद्योग मन म सुरक्छा के दृष्टि ले विस्फोटक पदार्थ रखे के व्यवस्था ल लेके कार्यवाही नई करे जात हे।

मंत्री डहरिया ह जवाब दिन कि कारखाना म विस्फोटक नई होए। मंत्री के जवाब ले असंतुष्ट होके भाजपा सदस्य मन हंगामा शुरू कर दिन। उहें विधायक अजय चंद्राकर ह मंत्री के गोठ बर आपत्ति जताईन। चंद्राकर के बात ले मंत्री शिव डहरिया भड़क गे। ताहन चंद्राकर ह कहिन कि आप मन ले जादा शालीन गोठ म गोठियाथों। आप बीच म टपक जाथव, पहिली जवाब त सुन लो। एखर बाद मंत्री शिव डहरिया अऊ अजय चंद्राकर के बीच तीखा वाद-विवाद शुरू हो गे। एकर बाद स्पीकर ह दखल देत कहिन कि शब्द संभारे बोलिए शब्द के हाथ ना पांव, एक शब्द करे औषधि एक शब्द करे घाव। ओमन जम्मो सदस्य मन ले सही शब्द इस्तेमाल करे के अनुरोध करिन।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.